गाजियाबाद। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे गाजियाबाद के लोनी क्षेत्र स्थित चिरोड़ी गांव में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहां एक पिता ने अपनी दो शादीशुदा बेटियों संग दो नातिनों को भी कमरे में बंद कर आग के हवाले कर दिया। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी पिता ने पुलिस को भी खुद की कॉल कर मामले की सूचना दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने चारों को गंभीर रूप से झुलसी अवस्था में दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया है। वहीं आरोपित पिता को गिरफ्तार कर मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं दूसरी ओर आरोपी के बेटे ने अपने पिता के खिलाफ दो बहन व भांजियों को जलाकर हत्या करने के प्रयास का मुकदमा दर्ज कराया है।

यह भी देखें :- गौतमबुद्ध नगर में दूसरी सीज फायर बनी ग्रेनो की नामी मोबाइल कंपनी, रविवार को 11 कर्मचारियों में हुई कोरोना की पुष्टि

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार लोनी के चिरोड़ी गांव में रहने वाले व्यक्ति ने अपनी दो बेटियों की शादी अलीगढ़ में की थी। लेकिन दोनों ही बेटियां शादी के कुछ समय बाद से ही अपने ससुराल नहीं जा रहीं थीं। जिनमें से एक बेटी पर दो बेटियां भी हैं। जिसके चलते आरोपी पिता बेटियों के मायके में रहने से परेशान था। जबकि बेटियों के ससुराल वाले लगातार उन्हें बुला रहे थे, लेकिन वह जाने को तैयार नहीं थीं। इसी बात को लेकर आरोपी पिता खासा परेशान था। इसी के साथ उसकी बड़ी परेशानी यह भी थी कि बेटियों को लेकर आस पड़ौस में रहने वाले लोग तरह तरह की चर्चाएं भी करते थे। जिसे वह बर्दाश्त नहीं कर पा रहा था। इसी बीच शनिवार की रात उसकी दोनों बेटियां अपनी बच्चियों को लेकर कमरे में सो रही थीं। रात में उसने सभी के कपड़े एकत्र करके उनके आसपास रख दिए और उनमें आग लगाकर कमरे की कुंडी बाहर से बंद कर दी।

जिसके बाद आरोपी पिता ने खुद ही 112 नंबर पर कॉल करके पुलिस को घटना की सूचना दे दी। आग लगने पर कमरे में अंदर बंद उसकी दोनों बेटियों संग दो नातिनों ने चिल्लाना शुरू कर दिया। जिनकी आवास सुनकर परिवार के और लोग भी मौके पर पहुंच गए। जिन्होंने कमरे का कुंडा खोलकर चारों को बाहर निकाला। लेकिन तब तक चारों बुरी तरह से झुलस चुकी थीं। घटना की सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने दोनों महिलाओं व बच्चियों को दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

[feed url=”https://bit.ly/2XoRHSf” number=”5″]