ग्रेटर नोएडा के बीटा-2 सेक्टर स्थित ओएसिस होम सोसायटी में बीती रात आई तेज आंधी तूफान के दौरान बिल्डिंग का प्लास्टर टूटकर गिर गया। जिसमें पार्किंग में खड़ी तीन गाड़ियों के शीशे टूट गए। वहीं इस दौरान एक कार मालिक भी बाल-बाल बचे। घटना के बाद से सोसायटी में रह रहे लोगों में बिल्डर के खिलाफ रोष व्याप्त है। लोगों का आरोप है कि बिल्डर उनसे मैंटिनेंस के नाम पर मोटी रकम लेता है। लेकिन उसके बावजूद सोसायटी की बिल्डिंग में मरम्मत का कार्य नहीं कराया जाता है।

मिली जानकारी के अनुसार ग्रेटर नोएडा के साकीपुर गांव निवासी सोबिंदर सिंह बीटा-2 सेक्टर ओएसिस होम सोसायटी में परिवार के साथ रहते हैं। सोबिंदर सिंह ने बताया कि उनकी सोसायटी की बिल्डिंग कई जगह से पूरी तरह जर्जर हो रही है। लेकिन कई बार शिकायत करने के बावजूद बिल्डर के द्वारा उसे ठीक नहीं कराया जाता है। जिसके चलते शुक्रवार रात को आए तेज आंधी तूफान के दौरान बिल्डिंग का प्लास्टर टूटकर गिर गया। जिसमें वो तो किसी तरह बाल-बाल बच गए। लेकिन नीचे खड़ी उनकी आई-20 कार का शीशा टूट गया। वहीं फ्लेट नंबर 1009 में रहने वाले विनोद सिंह की एसेंट कार में भी प्लास्टर गिरने से डेंट और शीशा आदि टूटा है। वहीं एक अन्य निवासी भी भी अल्टो कार का शीशा टूटा है।

सोसायटी के लोगों का कहना है कि यदि बिल्डर के द्वारा समय से बिल्डिंग की मरम्मत कराई गई होती तो आज यह हादसा नहीं हुआ होता। लोगों का कहना है कि सुक्र है कि यह प्लास्टर आज गाड़ियों के ऊपर गिरा है। यदि दिन के समय में गिरा होता तो शायद कोई व्यक्ति भी उसके नीचे आ सकता था। जिससे बड़ा हादसा हो सकता था और किसी की जान माल को भी खतरा हो सकता था। बहरहाल सोसायटी के लोगों में बिल्डर के खिलाफ खासा रोष व्याप्त है।