दादरी के जैतवारपुर प्यावली गांव में विद्युत सब स्टेशन का भूमि पूजन करते विधायक तेजपाल सिंह नागर व क्षेत्रीय उपाध्यक्ष सतेंद्र शिशौदिया। ग्रेनो मीडिया

ग्रेटर नोएडा। दादरी विधायक तेजपाल सिंह नागर ने बुधवार सुबह एनटीपीसी के जैतवारपुर प्यावली गांव बनाए जाने वाले 10 हजार केवीए के विद्युत सब स्टेशन का भूमि पूजन किया। इस अवसर पर उनके साथ भाजपा के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष पश्चिमी उत्तर प्रदेश सतेंद्र शिशौदिया भी मौजूद रहें। दौंनों ने मौके पर विधि विधान से हवन पूजन कर विद्युत सब स्टेशन की नींव रखी। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का ध्यान रखते हुए विद्युत विभाग के अधिकारी व ग्रामीण मौजूद रहें। इस नए विद्युत सब स्टेशन का निर्माण 5.70 करोड़ की लागत से किया जाएगा। जिसके लिए शासन प्रशसन से भूमि आवंटन की अनुमति प्रदान कर दी गई है। इस प्रस्तावित विद्युत सब स्टेशन से क्षेत्र के 17 गांवों के लोग लाभांवित होंगे।

कम होगी ग्रामीणों की परेसानी

इस अवसर पर दादरी विधायक तेजपाल सिंह नागर ने बताया कि प्रदेश में रही पूर्व सरकारों की खामियों के बावजूद गौतमबुद्धनगर जिला निर्माण के बाद भी क्षेत्र के सीधीपुर, ततारपुर, चौना, ऊंचा अमीरपुर और खंगौड़ा आदि पांच गांवों को पड़ौसी जनपद हापुड़ के पिलखुआ विद्युत सब स्टेशन से बिजली की सप्लाई होती है। जिसके चलते इन गांवों के लोगों को बिजली से संबंधित अपनी किसी भी समस्या के लिए अभी तक पिलखुआ विद्युत सब स्टेशन के चक्कर काटने पड़ते हैं। लेकिन अब उनकी शिकायतों व समस्याओं का निस्तारण बेहतर व समय से किया जा सकेगा।

वर्तमान विद्युत सब स्टेशन का भार होगा कम

तेजपाल सिंह नागर ने बताया कि नए विद्युत सब स्टेशन के निर्माण के बाद वर्तमान में एनटीपीसी रोड़ स्थित 33/11 केवी सब स्टेशन से पोषित जारचा और बिसाहड़ा फीडर का भी भार कम होगा। जोकि अभी तक अत्यधिक लोड़ झेल रहे हैं और क्षेत्र की भी लंबाई काफी अधिक है। इन दौनों ही फीड़रों से कुछ गांवों का भार प्यावली में बनने वाले विद्युत सब स्टेशन पर परिवर्तित कर दिया जाएगा।

ये गांव होंगे लाभांवित

उन्होंने बताया कि नए विद्युत सब स्टेशन से बिजली की सप्लाई प्राप्त करने वाले 17 गांवों में जारचा, जमशेदपुरा, रघुवीरगढ़ी, खुरशेदपुरा, आकलपुर, बंबावड, ढ़ोकलपुरा, कल्दा, प्यावली, रसूलपुर, जैतवारपुर, सीधीपुर, चौना, ततारपुर, ऊंचा गांव, कलौंदा, बिसाहड़ा आदि गांव शामिल रहेंगे।

60 गांवों में 7.8 करोड़ की लागत से बदलेंगे जर्जर तार

उन्होंने बताया कि नॉन सौभाग्य योजना के अंतर्गत दादरी ब्लॉक के 60 गांव ऐसे हैं जहां जर्जर तारों का जाल फैला हुआ था। लेकिन अब उन गांवों में 7.8 करोड़ रुपए की लागत से एबीसी केबल और पोल बदले जाने का कार्य किया जाना है। जिससे इन गांवों में भी बिजली की सप्लाई बेहतर होगी। जिनमें से 25 गांवों में यह कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है। इन 25 गांवों में उनके प्रयासों से 63 किलोमीटर एबी केबल की लाइन और 465 नए पीपीसी पोल लगाए जा चुके हैं।

1.20 करोड़ से होगा जारचा व बिसाहड़ा फीड़र का विभाजन

विधायक तेजपाल सिंह नागर ने बताया कि एनटीपीसी रोड़ स्थित विद्युत सब स्टेशन से पोषित बिसाहड़ा व जारचा फीड़र का विभाजन किया जाएगा। जिसमें करीब 1.20 करोड़ रुपए की लागत आनी है। जिसके विभागजित होने के बाद फीड़र पर चल रही ओवर लोडिंग की समस्या का समाधान होगा। दोनों फीडर से जुड़े तमाम गांवों में विद्युत समस्या पूरी तरह समाप्त हो जाएगी।

50 लाख से होगी ट्रांसफार्मर की छमताओं में वृद्धि

उन्होंने बताया कि दादरी विद्युत उप खंड से जुड़े कुछ ऐसे गांव हैं जहां बीते कुछ दिनों से ट्रांसफार्मरों में समस्याएं सामने आ रहीं हैं। विभागीय अधिकारियों के रिपोर्ट के अनुसार उन गांवों में ट्रांसफार्मरों की छमता को बढ़ाना अत्यंत आवश्यक है। जिसे ध्यान में रखते हुए क्षेत्र के सैंथली, कलौंदा, जारचा, बिसाहड़ा, प्यावली, अच्छेजा, चिटहेरा, धूम मानिकपुर, रूपवास आदि गांवों में 49.21 लाख रुपए की लागत से कुल 10 ट्रांसफार्मरों की छमता बढ़ाई जाएगी।

विद्युत सब स्टेशन के भूमि पूजन के इस अवसर पर अधिशासी अभियंता उपखंड दादरी के के सारस्वत, समाज सेवी एच के शर्मा, राकेश राणा प्रधान, मंडल अध्यक्ष विचित्र तौमर, सुरेंद्र प्रधान, ज्ञानेंद्र खारी, योगेश प्रधान, प्रतीक मंगल जारचा आदि गणमान्य लोग मौजूद रहे।

विज्ञापन