ग्रेटर नोएडा। कोरोना वायरस का संक्रमण रुकने का नाम नहीं ले रहा है। जिले के एक कर्मचारी नेता और उनका पूरा परिवार को भी कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। इस दौरान छुट्टियां बिताने मायके में आई उनकी बेटी और नाती भी संक्रमण की चपेट में आ गए। जिसके बाद कर्मचारी नेता के परिवार के सभी कोरोना संक्रमित सदस्यों को नोएडा सेक्टर 125 में बनाए गए कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कर्मचारी नेता फिलहाल सूरजपुर स्थित विकास भवन में तैनात हैं। जिसके चलते उनके कोरोना संक्रमित होने की सूचना के बाद से विकास भवन के अन्य अधिकारियों व कर्मचारियों में भी हड़कंप मचा हुआ है।

मिली जानकारी के अनुसार राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद 〈तिवारी गुट〉 के जिलाध्यक्ष सूरजपुर स्थित विकास भवन में अपर जिला कृषि अधिकारी के पद पर तैनात हैं। जोकि परिवार के साथ दादरी के छपरौला क्षेत्र में रहते हैं। उन्हें और उनकी पत्नी को बीते कई दिनों से बुखार और गले में दुखन की शिकायत थी। जिसपर उन्होंने रविवार को बादलपुर सीएचसी द्वारा छपरौला गांव में लगाए एंटिजन कोविड टेस्ट कैंप में अपनी कोविड़ जांच कराई थी। जिसमें उन्हें और उनकी पत्नी को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। जिसके तुरंत बाद उन्होंने अपने बेटे और छुट्टियां बिताने ससुराल से मायके आई अपनी बेटी व नाती का भी कोविड टेस्ट कराया। जिसमें परिवार के सभी सदस्यों को भी कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि की गई।

उन्होंने ग्रेनो मीडिया से बात करते हुए बताया कि फिलहाल वो और उनका पूरा परिवार नोएडा सेक्टर 125 में बनाए गए कोविड अस्पताल में भर्ती हैं। उन्होंने बताया कि रविवार शाम को बेटी के वापस ससुराल जाने की तैयारी थी। लेकिन इसी बीच बेटी व नाती को भी कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हो गई। जिसके बाद बेटी की ससुराल फोन कर पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। इस दौरान राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद 〈मिश्रा गुट〉 के जिला संयोजक कपिल चौधरी समेत लखनऊ से भी कई बड़े कर्मचारी नेताओं ने भी फोन कर उनका हाल चाल लिया है। सभी के द्वारा उनके परिवार समेत जल्द स्वस्थ होने की कामना की गई है।