पूर्व संतोष ट्रॉफी फुटबॉलर ई हम्साकोया (61) की कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो गई। शनिवार सुबह उन्होंने केरल के मल्लपुरम के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली। भारत में वायरस से यह किसी खिलाड़ी की पहली मौत का मामला है। हम्साकोया समेत दुनियाभर में खेल जगत के अब तक 11 दिग्गज जान गंवा चुके हैं।

हम्साकोया का अंतिम संस्कार कोरोना प्रोटोकॉल के तहत ही किया गया है। उनके परिवार में पत्नी, बहू और बेटे के अलावा 3 महीने और 3 साल के दो पोते भी कोरोना से संक्रमित हैं। सभी का इलाज मुंबई के मंजरी मेडिकल कॉलेज में चल रहा है।

मोहन बागान की ओर से भी खेल चुके
पूर्व भारतीय खिलाड़ी मुंबई में रहते थे। वे महाराष्ट्र की ओर से संतोष ट्रॉफी खेला करते थे। हम्साकोया भारत के बड़े फुटबॉल क्लब मोहन बागान और मोहम्मदन स्पोर्ट्स क्लब की ओर से भी खेले हैं। वे मालाबार क्षेत्र के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी रहे थे।

पाकिस्तान में तीन खिलाड़ियों की मौत
कोरोना के कारण पाकिस्तान में अब तक तीन पूर्व दिग्गज खिलाड़ी जान गंवा चुके हैं। हाल ही में पूर्व फर्स्ट क्लास क्रिकेटर रईज शेख (51) की मौत हो गई। हालांकि, शेख की मौत के बाद परिवार ने उनका कोरोना टेस्ट नहीं कराया, लेकिन सूत्रों की मानें तो पूर्व क्रिकेटर कोरोना से ही संक्रमित थे। इससे पहले पूर्व फर्स्ट-क्लास क्रिकेटर जफर सरफराज (50) और स्क्वैश लेजेंड आजम खान (95) भी जान गंवा चुके हैं।

कोरोना से खेल जगत के यह 7 दिग्गज भी जान गंवा चुके
कोरोना के कारण जापान के सूमो पहलवान शोबुशी (28), इंग्लैंड के पूर्व फुटबॉलर नॉर्मन हंटर (76), धावक दोनातो साबिया (56), स्विट्जरलैंड के आइस हॉकी लेजेंड रोजर शैपो (79), फ्रांस के फुटबॉल क्लब रीम्स के डॉक्टर बर्नार्ड गोंजालेज (60), इंग्लैंड के लंकाशायर क्रिकेट क्लब के अध्यक्ष डेविड हॉजकिस (71) और फ्रांस के ओलिंपिक डी मार्शल फुटबॉल क्लब के पूर्व अध्यक्ष पेप दिऑफ (68) दुनिया को अलविदा कह चुके हैं।


केरल के पूर्व संतोष ट्रॉफी फुटबॉलर ई हम्साकोया (61) मुंबई में रहते थे। वे मालाबार क्षेत्र के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी रहे थे। हम्साकोया मोहन बागान और मोहम्मदन स्पोर्ट्स क्लब की ओर खेल चुके हैं। -फाइल फोटो