खेल

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान बॉर्डर ने कहा- लीग पैसा कमाने का जरिया, इसे टी-20 वर्ल्ड कप पर तरजीह न मिले



ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलन बॉर्डर ने कहा है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) सिर्फ पैसा कमाने का जरिया है। इसे किसी भी सूरत में टी-20 वर्ल्ड कप पर तरजीह न दी जाए। बॉर्डर ने एबीसी के ‘ग्रैंडस्टैंड कैफे रेडियो’ प्रोग्राम के दौरान यह बात कही।

इस साल ऑस्ट्रेलिया में 18अक्टूबर से 15 नवंबर तकटी-20 वर्ल्ड कप खेला जाना है। लेकिन कोरोना की वजह से टूर्नामेंट के रद्द होने या टलने की पूरी आशंका है।ऐसे में वर्ल्ड कप की विंडो में आईपीएल कराने की बात हो रही है। बॉर्डर इसी बात सेनाराज हैं।

टी-20 वर्ल्ड कप की जगह आईपीएल कराना गलत: चैपल

उन्होंने कहा- मैं इससे खुश नहीं हूं। अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट को हमेशा लोकल टूर्नामेंट पर तरजीह मिलनी चाहिए। इसलिए अगर किसी भी सूरत में टी-20 वर्ल्ड कप नहीं होता है तो आईपीएल भी नहीं होना चाहिए। मैं इस फैसले पर सवाल उठाऊंगा। क्योंकि आईपीएल सिर्फ पैसा कमाने का जरिया है।

अगर टी-20 वर्ल्ड कप की जगह आईपीएल कराया जाता है तो यह खेल के लिए गलत मिसाल होगी। ऐसी सूरत में इस फैसले के खिलाफ विरोध जताने के लिए सभी देशों के क्रिकेट बोर्ड को अपने खिलाड़ी इस लीग में नहीं भेजने चाहिए।

‘अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत का रसूख ज्यादा’

बॉर्डर ने कहा कि वह जानते हैं कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत का रसूख ज्यादा है। क्योंकि आईसीसी को होने वाली कमाई में करीब 80 फीसदी हिस्सा उसी से आता है।

कमिंस आईपीएल के सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी

आईपीएल के 13वें सीजन की नीलामी में सबसे महंगे बिके पांच खिलाड़ियों में से तीन ऑस्ट्रेलिया के थे। इसमें पैट कमिंस को सबसे ज्यादा 15.5 करोड़ रुपए मिले थे। वे आईपीएल इतिहास के सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी बने थे। उन्हें कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) ने खरीदा था।

उनके हमवतन ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल को किंग्स इलेवन पंजाब ने 10.75 करोड़ रुपए में खरीदा था। इसके अलावा नाथन कूल्टर नाइल को मुंबई ने 8 करोड़ में खरीदा था।आईपीएल की नीलामी में शामिल विदेशी खिलाड़ियों में सबसे बड़ी संख्या ऑस्ट्रेलिया की थी। यहां के 35 प्लेय़र्स नीलामी के लिए चुने गए थे।

टी-20 वर्ल्ड कप टालने पर जोर नहीं: बीसीसीआई

इस बीच, बीसीसीआई ने आईपीएल को टी-20 वर्ल्डकप की जगह कराने को लेकर चल रही खबरों पर विराम लगा दिया। भारतीय बोर्ड का कहना है वह वर्ल्डकप को टालने या रद्द करने पर जोर नहीं देगा। हां, अगर अक्टूबर-नवंबर के स्लॉट में जगह मिलती है तो आईपीएल कराने के बारे में सोचा जा सकता है।

कोरोना के कारण टी-20 वर्ल्ड कप टल सकता है

कोरोनावायरस की वजह से पहले ही मार्च में शुरू होने वाले आईपीएल के 13वें सीजन को अगले आदेश तक के लिए टाल दिया गया है, जबकि कोरोना से पैदा हुए खतरे के बीच टी-20 वर्ल्ड कप भी रद्द हो सकता है। अगले हफ्ते तक इसका ऐलान किया जा सकता है।


ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलन बॉर्डर ने कहा कि वह जानते हैं कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत का रसूख ज्यादा है। क्योंकि आईसीसी को होने वाली कमाई में करीब 80 फीसदी हिस्सा भारत से आता है। -फाइल

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close