उत्तर प्रदेश

एक्टिव केसों की तुलना में ठीक होने वाले मरीज बढ़े; 3000 से ज्यादा स्वस्थ हुए, झांसी में बिहार सरकार के खिलाफ मजदूरों का गुस्सा फूटा



उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के नए केस बढ़ने के बीच अच्छी खबर यह है कि संक्रमितों के मुकाबले स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या अधिक बनी हुई है। गुरुवार को राज्य में कोरोना के कुल 2173 एक्टिव मरीज थे,जबकि अब तक इलाज के बाद 3204 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। राज्य में 24 घंटे मेंकोरोना के 341 नए केस सामने आए। इसके साथ राज्य में कोरोना संक्रमितोंकी कुल संख्या 5521 हो गई है। संक्रमण से 138 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, केजीएमयू से जारी रिपोर्ट के मुताबिक, शुक्रवार सुबह तक 6 पॉजिटिव मरीज मिले। इनमें 5 केस लखनऊ से हैं।वहीं,झांसी के रक्सा बॉर्डर पर शुक्रवार सुबह प्रवासी मजदूरों का गुस्सा फूट पड़ा। मुंबई से बिहार जा रहे प्रवासी मजदूरों ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ नारेबाजी की।

मजदूरों ने कहा कि आज हम लोगमुसीबत में हैं लेकिन बिहार सरकार उनकी कोई सुध नहीं ले रही। सरकार संकट में साथ नहीं दे रही। मदद मांगने पर बिहार के अफसरों ने अपना फोन तक बंद कर लिया। सरकार अगर सुध लेती तो अब तक हम लोगअपने घर पहुंच जाते। प्रवासी मजदूरों ने उत्तरप्रदेश की व्यवस्थाको बेहतर बताया। झांसी बॉर्डर पर आते ही खाना, पानी और सभी व्यवस्थाएं अच्छी मिलने परसंतोष जताया।झांसी प्रशासन ने मजदूरों को भेजने के लिए बसों काइंतजाम किया।

पिछले 24 घंटे में कहां कितने मामले मिले

बाराबंकी में 54, अयोध्या में 19, जौनपुर में 17, आजमगढ़ और बस्ती में 16-16, सुल्तानपुर में 14, अलीगढ़ में 13, कौशाम्बी-गाजीपुर-सिद्धार्थनगर में 12-12, रामपुर में 11, मऊ-अम्बेडकरनगर-गाजियाबाद-आगरा-गौतमबुद्धनगर में 9-9, महाराजगंज में 8, बुलंदशहर में 7, श्रावस्ती-मेरठ में 6-6, लखनऊ-उन्नाव-फतेहपुर- देवरिया-अमेठी-कानपुर नगर में 5-5, शाहजहांपुर-अमरोहा-बिजनौर में 4-4, चित्रकूट-पीलीभीत-बहराइच- मुरादाबाद में 3-3, हापुड़-मथुरा-मुजफ्फरनगर-गोरखपुर-कन्नौज-फर्रुखाबाद-हरदोई- भदोही-हमीरपुर में 2-2 , मिर्जापुर-बांदा-इटावा-लखीमपुर खीरी-जालौन- प्रयागराज-सहारनपुर में एक-एक संक्रमित मिला।

वाराणसी: सड़कों पर सन्नाटा, 3 और मरीजों में संक्रमण की पुष्टि

वाराणसी में लॉकडाउन के साथ ही तेज धूप की वजह से तेलियाबाग रोड पर सुबह से ही सन्नाटा पसरा हुआ है। आम दिनों में इस सड़क पर काफी चहल पहल रहती थी।

वाराणसी में लॉकडाउन के बीच तेज धूप की वजह से तेलियाबाग रोड पर सुबह से ही सन्नाटा पसरा है। आम दिनों में इस सड़क पर काफी चहल-पहल रहती है।

वाराणसी में लॉकडाउन के बीच तेज धूप की वजह से तेलियाबाग रोड पर सुबह से सन्नाटा पसरा रहा है। इन रास्तों पर पर्यटकों को लेने के लिए कभी सैकड़ों रिक्शेवाले बैठे रहते थे। कोरोना के चलते बहुत से रिक्शेवाले भी शहर छोड़कर अपने गांवचले गए हैं। दूसरी ओर शहर के नई सड़क चेतगंज मार्ग पर भी सुबह से ही लोगों के भीड़ रहती थी। यहां भी धूप और कोरोना ने सन्नाटा ला दिया है। ईद के लिए सबसे बड़ी मार्केट यहीं लगा करती है। इस बीच शहर में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। गुरुवारको बिहार की मूल निवासी गर्भवती महिला समेत तीन लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा ने बताया कि गर्भवती महिला 19 मई कोबीएचयू में प्रसव के लिए गईथी।

लखनऊ: ईद के मौके पर घरों में ही नमाज अदा करने की अपील
लखनऊ में इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के अध्यक्ष राशिद फिरंगी महली ने लोगों से अपील की है कि वेईद के मौके पर लॉकडाउन के नियमों का पालन करें। फिरंगी महली ने मुस्लिम समुदाय से अपील की है कि मस्जिदों में वही चार या पांच लोग नमाज अदा करें जो स्थायी तौर पर वहां रहते हैं। इनके अलावा सभी लोग कोविड 19 से बचाव के लिए अपने घरों में ही ईद के लिए नमाज अदा करें।

लखनऊ में ईद को लेकर राशिद फिरंग महली ने लोगों से अपील की है कि लोग घरों में नमाज अदा करें और लॉकडाउन के नियमों का पूरी तरह से पालन करें।
लखनऊ में ईद को लेकर राशिद फिरंग महली ने लोगों से अपील की है कि लोग घरों में नमाज अदा करें और लॉकडाउन के नियमों का पूरी तरह से पालन करें।

गाजीपुर में एक साथ 11 मामले सामने आए

गाजीपुर में गुरुवार देर शाम आई रिपोर्ट में 11 नए कोरोना संक्रमित मिले। अब जिले में कुल 71 मरीज हो गए, इनमें 7 ठीक हो गएहैं। वर्तमान में जनपद में कुल 65 मरीज सक्रिय हैं। सीएमओ डॉ. जीसी मौर्या ने बताया कि नए संक्रमितों में से अधिकतर लोग सैदपुर और मनिहारी इलाके के ही मरीज हैं जो मुंबई और गुजरात से आए हैं।

आगरा में स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी

आगरा में छह नए मामले बढ़ने से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 837 पर पहुंच गया। राहत की बात यह है कि 36 और लोग कोरोना से जंग जीत गए। अब स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 696 हो गई है। अभी 110 मरीजों का उपचार चल रहा है।कोरोना से जंग में ताजनगरी धीरे-धीरे जीत को ओर बढ़ रही है। पिछले दो सप्ताहों से जहां एक तरफ संक्रमण की रफ्तार कम हुई है, वहीं स्वस्थ होने वाले लोगों का ग्राफ तेजी से ऊपर बढ़ता जा रहा है। प्रशासन की रिपोर्ट के अनुसार स्वस्थ होने की दर 83 फीसदी से अधिक है।जिले में 11462 लोगों की सैंपलिंग हो चुकी है। अब तक 837 कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनमें 696 ठीक हो गए हैं। 28 लोगों की मौत हो गई है।

कानपुर में प्रवासी मजदूर की संक्रमण से मौत

उत्तर प्रदेश के कानपुर में संक्रमण से होने वाली मौतों का आकड़ा दहाई तक पहुंच गया है। गुरूवार को प्रवासी श्रमिक ने हैलट के कोविड-19 अस्पताल में दम तोड़ दिया। देर रात मृतक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। प्रवासी श्रमिक की मौत के साथ ही शहर मृतकों की संख्या 10 पहुंच गई है। इसके साथ ही गुरूवार को चार नए पॉजिटिव पेसेंट सामने आए हैं। जिसमें दो प्रवासी श्रमिक है जो बिल्हौर सड़क हादसे में घायल हुए थे और एक नगर निगम सफाई कर्मचारी और बर्रा में रहने वाले बुजुर्ग शामिल हैं। शहर में संक्रमितों संख्या 324 पहुंच गई। वहीं 288 मरीज स्वस्थ होकर घरों को लौट चुके हैं।

बदायूं में एक साथ 17 संक्रमित पाए, ज्यादातर प्रवासी मजदूर शामिल
बदायूं में भी कोरोना बम फूटा है और जनपद में एक साथ 17 लोगों के संक्रमित मिलने के बाद हड़कंप मच गया है। इनमें एक गर्भवती महिला भी शामिल है। सभी कोरोना पॉजिटिव लोगों को उझानी अस्पताल में रखा जाएगा। जनपद में 16 कोरोना संक्रमित लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ग्रीन जोन में आया था। जिससे प्रशासन ने राहत की जरूर सांस ली थी। यह सभी लोग अलग अलग राज्यो से आये प्रवासी मजदूर हैं।वहींइस मामले में सीएमओ का कहना है कि पिछले एक महीने से कोरोना मुक्त रहा बदायूं जनपद में आज एक साथ 17 पॉजिटिव केस सामने आ गया है। आज सामने आए कोरोना पॉजिटिव में अधिकतम प्रवासी लोग हैं जो हाल ही में मुम्बई और अन्य जगहों से वापिस आए थे ।


यह तस्वीर झांसी की है। यहां रक्सा बाॅर्डर पर एकत्रित कामगारों ने बिहार सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ये लोग मुंबई से बिहार जा रहे थे। यहां इनके खाने-पीने की व्यवस्था कराई गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close